गोपीगंज कोतवाली

भदोही । यह है आज की भदोही पुलिस। कभी STF के चंगुल से बच निकलने वालों को सलाखों के पीछे किया तो कभी बिहार के भगोड़े अपराधी को। अब तो भदोही पुलिस ने देश की राजधानी में गैंगरेप कर दिल्ली पुलिस की नजरों से बच निकलने वाले गैंगरेप के मुख्य आरोपी को भी सलाखों के पीछे पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाई है।

यह है पूरा मामला

निर्भया की बरसी के दिन दिल्ली के शालीमारबाग थाना क्षेत्र में किशोरी के साथ हुए गैंगरेप की घटना के एक आरोपी को दिल्ली पुलिस ने भदोही पुलिस के जांबाजों के सहयोग से गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के इब्राहिमपुर गांव से पुलिस ने गैंगरेप आरोपी कमलेश सरोज को धर दबोचा। उसके पास से किशोरी का मोबाइल और उसके साथी का जूता भी पुलिस ने बरामद किया है।

ऐसे हुई थी गैंगरेप की घटना

दिल्ली के शालीमारबाग थाना क्षेत्र में बीते 16 दिसंबर को निर्भया की बरसी के दिन तीन युवकों ने एक पार्क में साथी युवक के साथ घूमने आयी एक किशोरी (नाबालिग) के साथ बारी बारी से गैंगरेप किया था। इस दौरान उसके साथ के साथ मारपीट कर उसके जूते छिन लिए थे। किशोरी का मोबाइल आदि सामान भी गैंगरेप के आरोपी लेकर चलते बने थे।

खास रिपोर्ट

हिल गई थी दिल्ली, भदोही में ऐसे गठित की एसपी ने टीम

गैंगरेप की इस घटना से समूची दिल्ली दहल गयी थी। इस मामले में शालीमारबाग थाने में मुख्य आरोपी कमलेश समेत तीन युवकों पर मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने भदोही पुलिस अधीक्षक सचीन्द्र पटेल से मदद मांगी। इस पर एसपी ने स्वाट टीम प्रभारी अजय सिंह और गोपीगंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक सुनील दत्त दुबे को शामिल कर एक टीम का गठन कर आरोपी की गिरफ्तारी का निर्देश दिया।

दिल्ली के पुलिस कमिश्नर ने SP भदोही को सराहा

गोपीगंज के इंस्पेक्टर सुनील दत्त दुबे की टीम ने गुरूवार को गैंगरेप के मुख्य आरोपी कमलेश सरोज निवासी इब्राहिमपुर, गोपीगंज को उसके घर से धर दबोचा। दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने इस गिरफ्तारी पर भदोही पुलिस की सराहना करते हुए एसपी सचीन्द्र पटेल को फोन पर धन्यवाद देते हुए आभार जताया है।