मातृशोक

भदोही/इलाहाबाद। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने वरिष्ठ पत्रकार रमाकान्त त्रिपाठी की माता श्रीमती सावित्री देवी  के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उप मुख्यमंत्री श्री मौर्या ने स्वर्गीय सावित्री देवी की दिवंगत आत्मा को शांति और परिवारी जन के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

इलाहाबाद जिले के हण्डिया (बरौत) क्षेत्र के भेलसी गाँव निवासी वरिष्ठ पत्रकार रमाकान्त त्रिपाठी की माता श्रीमती सावित्री देवी (62वर्ष) की अवस्था में सोलह फरवरी को निधन हो गया गया। वह कुछ समय से बीमार चल रही थीं। कई वरिष्ठ चिकित्सकों से समय-समय पर उनका इलाज भी कराया लेकिन इस बार जब वे बीमार पड़ीं तो साथ छूट गया। उनके निधन से पत्रकारिता जगत में शोक की लहर दौड़ गयी है। वरिष्ठ पत्रकार रमाकान्त त्रिपाठी के भाई डॉ0 श्यामकान्त त्रिपाठी, एडवोकेट प्रभाकान्त त्रिपाठी समेत उनकी पत्नी, बेटा और बेटी सहित परिवार के सभी जन इस समय गहरी पीड़ा में है। वे अपने पीछे पति कृष्णा कान्त त्रिपाठी, बेटी, बेटों समेत भरा-पूरा परिवार छोड़ गई हैं।

स्वर्गलीन माता जी के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार हण्डिया क्षेत्र में स्थित टेला पर किया गया। वहां इलाहाबाद जिले के कई राजनेता, संपादक, पत्रकार, समाजसेवी समेत सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।

पत्रकार रमाकान्त त्रिपाठी इलाहाबाद जिले के कई अखबारों में वरिष्ठ पद पर कार्यरत भी रह चुके हैं। बेसिक शिक्षक वेलफेयर एसोशिएसन उत्तर प्रदेश के प्रदेश प्रवक्ता एवम् प्रदेश मीडिया प्रभारी देश दीपक पाण्डेय ने अपने फेसबुक पर लिखा है कि पत्रकारिता के सफ़र के अपने एक साथी रमाकान्त त्रिपाठी की पूजनीय माताश्री के निधन के उपरान्त की अंतिम बिदाई के समय साथी रमाकांत त्रिपाठी की मर्मान्तक पीड़ादायी स्थिति से रूबरू होना पड़ा।

निधन पर वरिष्ठ पत्रकार अलीम उद्दीन, प्रदेश प्रवक्ता एवम् प्रदेश मीडिया प्रभारी देश दीपक पाण्डेय समेत भदोही प्रेस क्लब के संरक्षक डा. लक्ष्मीधर चतुर्वेदी, मिथिलेश द्विवेदी, विजय कुमार मिश्र, गिरीश पांडेय, जलील अहमद, प्रभुनाथ शुक्ल, राज पांडेय समेत कई पत्रकारों ने भी संवेदना प्रकट की है। सोमवार को हुई शोकसभा में दो मिनट का मौन रखा गया।