राहुल गांधी से मुलाकत करते युवा कांग्रेस कार्यकर्ता

भदोही । ज़िले से युवक काँग्रेस कमेटी का एक दल दिल्ली स्थित अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी के मुख्यालय पर राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकत की। कार्यकर्ताओं ने गाँधी को भदोही के कालीन उद्योग की बदहाली से अवगत कराया। दुनिया में दस हजार करोड़ का निर्यातक करने वाला कालीन उद्योग सुविधाओं के अभाव में बदहाल है। राहुल को बताया गया कि प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लाखों लोग जुड़े हुए हैं और अपनी जीविका चलाते हैं परंतु मोदी सरकार की जीएसटी और ई- बिल नीति की वजह से आज हजारों लोग बेरोजगार हो चुके हैं ।

उत्तर प्रदेश युवा कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महासचिव वसीम अंसारी व प्रदेश प्रवक्ता अमित राय ने राहुल को बताया कि कालीन उद्योग काँग्रेस के दौर में नया मुकाम हासिल किया। पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के अथक प्रयासों के चलते उस वक्त कालीन उद्योग  स्वर्णिम काल में था, लेकिन गैर कांग्रेसी सरकारों की अदूरदर्शी नीतियों के कारण कालीन उद्योग पूरी तरह से तबाह चुका है। इस उद्योग में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लाखों लोग जुड़े हुए हैं और अपनी जीविका चलाते हैं, लेकिन  मोदी सरकार की जीएसटी और  ई- बिल नीति की वजह से आज हजारों लोग बेरोजगार हो चुके हैं।

कांग्रेस ने अपनी सरकार में बुनकरों के लिए ढेर सारी योजनाएं चलाई थी लेकिन आज सभी योजनाएं बंद हो चुकी हैं। कालीन उद्योग से जुड़े लाखों लोग कांग्रेस की ओर उम्मीद की निगाह से देख रहे हैं। लोगों को भरोसा है कि कांग्रेस कालीन उद्योग को समझती है और पार्टी की नीतियां हमेशा गरीबों मजदूरों व मध्यम वर्ग को देख कर ही बनती है । राहुल गांधी ने बड़े ध्यान से सारी बातों को समझा और कहा कि निश्चित रूप से हम इस मुद्दे को संसद में उठाएंगे और हमारी सरकार बनने पर जीएसटी और ई- बिल जैसे मुद्दे पर पुनर्विचार किया जाएगा। उन्होंने भदोही युवा कांग्रेस को जनहित में लगातार कर रहे संघर्षों के लिए प्रोत्साहित किया और कहा कि कांग्रेस में आप जैसे कार्यकर्ताओं की बहुत ही आवश्यकता है। प्रतिनिधि मंडल में मुख्य रूप से , राजबहादुर सिंह, मनोज नारायण ,संजय यादव, गुड्डू गौतम मौजूद रहे।