भदोही। नगर में गुरुवार को अजीमुल्लाह चौराहे पर संविधान, धर्मनिरपेक्षता और लोकतंत्र के समझ चुनौतियां विषय पर जनसभा का आयोजन किया गया। जिसमें वामपंथी और जनवादी पार्टियों के नेताओं ने भाग लेकर भाजपा सरकार पर तीखा प्रहार किया।

इस दौरान भाकपा के वरिष्ठ नेता फूल चंद यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में संविधान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। भाजपा हिन्दू-मुस्लिम को वोट की राजनीति के कारण लड़वा रही। जिससे देश में धर्मनिरपेक्षता खतरे में है। जो लोकतंत्र के समझ एक बड़ी चुनौती बना हुआ है। उन्होंने कहा कि संप्रदायिकता कारपोरेट जगत की रखवाली का एक अस्त्र बन चुका है। देश का पूंजीवादी वर्ग अपनी सत्ता को कायम रखने के लिए सांप्रदायिकता का उपयोग कर रही है। श्री यादव ने कहा कि सांप्रदायिक ताकतें देश की एकता और अखंडता के लिए खतरा बन चुकी है। मंदिर और मस्जिद के झगडे को लगातार अपनी सत्ता सुरक्षा करते हैं। कारपोरेटो की लूट को जारी रखना चाहते हैं।
इस मौके पर इजहार खां, जैनुल आब्दीन बेग, चंद्रेश त्रिपाठी, शोभनाथ यादव, रामजीत यादव, आदित्य नारायण ओझा एडवोकेट, मुशीर इकबाल, सर्वेश राय, डा. निजामुद्दीन मंसूरी, मुन्ना यादव, बनारसी सोनकर, कमर मलिक, कबूतरा देवी, ज्ञान प्रकाश प्रजापति आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे। जनसभा की अध्यक्षता माकपा के जिला सचिव जगन्नाथ मौर्य व संचालन भाकपा के जिला सचिव सुशील कुमार श्रीवास्तव ने किया।