डीएम राजेन्द्र प्रसाद

भदोही। दिव्यांग प्रमाणपत्र में लिए अब ज्ञानपुर का चक्कर नही लगाना पड़ेगा |काशियाना फाउंडेशन के भागीरथ प्रयास से बुधवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोपीगंज में शिविर का आयोजन किया गया| पहले शिविर का शुभारंभ सुबह दस बजे दिव्याग विभाग नई दिल्ली के सलाहकार उत्तम ओझा व जिलाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद ने मुख्य विकास अधिकारी हरी शंकर सिंह के साथ शुभारंभ किया | पहले शिविर मे कुल 129 लोगों ने पंजीकरण कराया।

बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोपीगंज में आयोजित शिविर मे 64अस्थि रोग 13नेत्र20 मानसिक और 32नाक और कान से संबंधित सहित कुल 129 लोगों का पंजीकरण किया गया| विभाग के कर्मचारियों के साथ तीन सदस्यीय चिकित्सको की टीम 129 लोगों का परीक्षण किया |परीक्षण के साथ प्रमाण पत्र जारी करने के लिए पत्रावली मुख्य चिकित्सा अधिकारी को भेज दिया | शिविर का शुभारंभ दस बजे कर दिया गया लेकिन चिकित्सको की टीम दो घंटे बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुची | चिकित्सको के पहुंचने पर परीक्षण शुरू किया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे पहली बार शिविर का आयोजन होने से गरीब असहाय दिव्याग जनो को काफी सहूलियत मिल गयी।

काशीयाना फाउंडेशन के सुमित सिंह ने बताया कि गोपीगंज के बाद अब उनका प्रयास है कि अन्य सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे भी सुविधा शुरु हो जाय | कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा दिव्याग जनो के लिए अनेक योजनाएं संचालित की जा रही है | प्रमाण पत्र बन जाने पर उनको शासन प्रशासन से योजनाओं का लाभ दिलाने का काम किया जाएगा। बताया की संस्था के माध्यम से पिछले पाच साल से नशा मुक्ति, दिव्यागजनो के हित के लिए गांव को गोद लेकर काम कर रही है ।

इस मौके पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ आशुतोष पांडेय , डॉक्टर दिनेश भारती संध्या पांडेय प्रमिला सिंह अन्य थे| फाउंडेशन की ओर से आशीष गुप्त, अनुप सिंह, दिलीप सिंह, विवेक, नीरज पांडेय का सराहनीय योगदान रहा ।