भदोही। महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर क्षेत्र के शिवालयों में शिवभक्तों का तांता लगा रहा। सीतामढ़ी क्षेत्र के मठहा शुक्लान गांव में श्री बालनाथ महादेव मंदिर में विविध धार्मिक कार्यक्रमो का भब्य आयोजन हुआ। इस मौके पर मंदिर की आकर्षक साज सज्जा के साथ धार्मिक कार्यक्रम के आयोजनों से पूरा क्षेत्र शिवमय हो गया। सोमवार सुबह से अखंड मानस पाठ का आयोजन शुरु हुआ। पाठ का समापन मंगलवार को होगा उसके बाद प्रसाद वितरण और भंडारे का आयोजन होगा। धार्मिक स्थली सीतामढ़ी में बाबा धवासा नाथ महादेव मंदिर सहित विभिन्न शिवमंदिरों में शिवभक्तों ने जलाभिषेक, रुद्राभिषेक कर दर्शनपूजन किया।

महाशिवरात्रि की पूर्व संध्या पर सीतामढ़ी क्षेत्र के मठहा शुक्लान गांव स्थित भब्य शिव मंदिर बाबा बालनाथ धाम में रात्रि जागरण का भब्य आयोजन हुआ। इस मौके पर भजनों की सुर सरिता से बाल नाथ दरबार झंकृत हो उठा। बाबा दरबार मे देर रात तक चले भजन संध्या के आयोजन से पूरा क्षेत्र भक्ति रस में डूबा रहा। प्रयागराज जनपद के मेजा क्षेत्र के शुकुलपुर से पधारे भजन गायकों तिवारी बंधुओ ने सुमधुर भजनों की प्रस्तुति से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम का श्री गणेश प्रथम पूज्य गणेश बंदन से शुरू हुआ। भजन गायक सुजीत तिवारी और मंजीत तिवारी ने एक से बढ़ कर एक भजनों की प्रस्तुति दी। उनके भजन नाही बाटी नरियर चुनरी….. पर श्रोता मंत्रमुग्ध हो गए।

भजन मइया का चुनरी बा लाल लाल ….और नाही खाई खोवा मेवा… भजन पर श्रोता जमकर ठुमके लगाए। सुजीत तिवारी के सुमधुर भजन ए री सखी मंगल गाओ री…. पर श्रोता भाव विह्वल हो गए। पूरी रात भजनों की प्रस्तुति पर बाबा का दरबार झंकृत होता रहा। नवोदित भजन गायक नीतेश तिवारी, मोनू शुक्ला आदि के भजनों पर भगवत भक्त झूम उठे। इस मौके पर आयोजन समिति के ब्रह्मशंकर तिवारी सहित देवी शंकर शुक्ला, परशुराम शुक्ला, साहब शुक्ल, श्यामकुमार शुक्ल, हाकिम शुक्ल, मुन्ना शुक्ला, जगदीश शुक्ला, मंजय शुक्ल आदि रहे।