भदोही। मखमली गलीचों के शहर भदोही की सियासत कालीन के रंगों की गरमाहट की तरह उबलने लगी हैं । जिला कार्यालय जोरई, सरपतहां मोड़ में बुधवार को बसपा-सपा और रालोद लोकसभा स्तरीय एक मीटिंग में इन दलों के कार्यकर्ताओं की भीड़ में सूबे के पूर्व मंत्री और लोकसभा क्षेत्र भदोही के बसपा प्रभारी रंगनाथ मिश्र खूब दहाड़े। मोदी, योगी, सांसद-विधायक और यहां तक की मीडिया को भी नहीं छोड़ा। पुलवामा की घटना को मोदी के माथे पर कलंक बताया तो योगी आदित्यनाथ पर भी बरसे। सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त को सस्त बताया तो विधायक विजय मिश्रा को मोदी-योगी का गुणगान करने वाला। इलेक्ट्रानिक मीडिया को कहा कि वह भाजपा का भोपू हो चुका है। आप लोग “माऊथ मीडिया” का प्रयोग कर यहां से बसपा की हाथी को दिल्ली भेजें।

जी हां, पूर्व मंत्री आज पूरे वेग में नजर आए। सांसद को कहा कि वह मस्त नहीं, सस्त हैं। खुद को पहलवान कहते हैं। झूठ बोलते हैं। वह कभी पहलवान रहे भी हैं। लगोंट बांधे भी हैं अथवा नहीं। सांसद को हर मोर्चे पर फेल बताया। कहा कि इनके झूठे दावों को जनता बेनकाब करेगी। वहीं, विधायक ज्ञानपुर विजय मिश्रा को मोदी योगी का गुणगान करने वाला बताने के साथ इलेक्ट्रानिक मीडिया को भाजपा का भोपू बताया। कहा कि इसके लिए कार्यकर्ता “माऊथ” मीडिया का सहारा लेकर सरकार की विफलताओं को जन जन तक पहुचाएं।

इससे पहले अखिलेश अंबेडकर समेत तमाम लोगों ने संबोधन किया। सपा-बसपा और राष्ट्रीय लोकदल लोकसभा स्तरीय कार्यकर्ता बैठक में कोआर्डिनेटर लखनऊ अखिलेश अंबेडकर, अशोक गौतम, ओमप्रकाश यादव मधुबाला पासी, हाकिम लाल बिंद, मोहम्मद मुस्तफा, कमला शंकर भारती, बैजनाथ गौतम, उमेश बिंद , प्रदीप यादव, रीता वर्मा आर के पटेल पूर्व प्रमुख सुरेश चंद द्विवेदी, भरत राज सिंह विकास मिश्रा, चंद्रकांत शुक्ला अंबुज मिश्रा, शकुंतला गौतम, शोभनाथ यादव एडवोकेट, संतोष यादव, दीना यादव, रायचंद गौतम सुभाष चंद्र गौतम, संतोष विश्वकर्मा, रामधनी यादव, कमलेश यादव, सुभाष यादव , संतलाल, यादव, लल्लू प्रसाद गौतम, राजेश गौतम, जेपी चौधरी आदि मौजूद रहे।