Press Warta

भदोही।मदरसा तक़वा गर्ल्स इस्लामिक स्कूल में छात्राओं को वर्ष 2019 सत्र से दीनी व दुनियाबी तालीम के साथ ही आत्म निर्भर बनाने के लिए कढाई, सिलाई, बुनाई, कंप्यूटर आदि का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। शुक्रवार को स्कूल के संरक्षक हाजी शाहिद हुसैन व अध्यक्ष अब्दुल कादिर अंसारी ने प्रेस वार्ता कर भावी योजना की जानकारी दी।

संरक्षक ने बताया कि नारी सशक्तिकरण भावना को ध्यान में रख कर छात्राओ को मार्डन शिक्षा से जोड़ने के लिए प्रबंध समित गम्भीर है।स्कूल में हर तबके की  सभी छात्राएं दाखिला लेकर निशुल्क शिक्षा प्राप्त कर सकती है।अध्यक्ष ने कहा कि स्कूल की प्रतिभावान व मेघावी छात्राओं को प्रोत्साहित करने के लिए 10वीं व 12वीं की शिक्षा निशुल्क ग्रीन व्यू पब्लिक स्कूल में देने के साथ आगे की उच्च शिक्षा में बढ चढ कर सहयोग होगा।

मौ.अब्दुस्समद जेयाई ने बताया कि 2011 में स्कूल से शिक्षण कार्य शुरु हुआ था।अब तक तीन दर्जन से अधिक छात्राएं आलिमा व कारियां की डिग्री प्राप्त कर समाज में जागरुकता फैला रही है।अभी वर्तमान में 500 छात्राएं शिक्षारत है।उन्होंने बताया कि 2016 में    6 आलिया 14 कारिया, 2017 में 15 कारिया व 6 आलिमा, 2018 में  14 कारिया व 6 आलिमा डिग्री प्राप्त कर चूकी है।

इस वर्ष 2019 में 10 कारिया व 8 आलिमा को 17 मार्च आयोजित कांफ्रेंस में सनद से नवाजा जाएगा।मौलाना ने नगर की महिलाओं से 17 मार्च को स्कूल में दिन में 10 बजे से शाम चार बजे तक आयोजित फिक्र तक़वा कांफ्रेंस व जश्ने रिदाए फजीलत व किरअत में शामिल होने का आह्वान किया है।

बताया कि कांफ्रेंस में विभिन्न विषयों पर खिताब करने के लिए वाराणसी की आलिमा रिजवाना व घोषी की नासिरा तशरीफ ला रही है।इसके अलावा शायरा वाराणसी की साजिया अंसारी,समां नूरी भी कांफ्रेंस में शिरकत करेंगी।मौलाना ने कांफ्रेंस का उद्देश्य समाज में इल्मो अमल की रोशनी फैलाना है।जिसके लिए इदारा निशुल्क इल्म के साथ यूनिफार्म किताब आदि भी मुफ़्त उपलब्ध करा रही है।उन्होंने बताया कि कांफ्रेंस सिर्फ महिलाओं के लिए आयोजित है।जिसमे महिला आलिमा खिताब करेंगी।