भदोही।मदरसा तक़वा गर्ल्स इस्लामिक स्कूल में सोमवार को फिक्र तक़वा कांफ्रेंस व जश्ने रिदाए फ़ज़ीलत व किरअत का आयोजन हुआ।कांफ्रेंस में वाराणसी व टांडा की आलिमाओं ने हुकूके वालिदैन व औलाद सहित विभिन्न विषयों पर कुरआन व हदीश की रौशनी में तफ़सील से खिताब किया।

इस दौरान स्कूल से 10 आलिमा व 8 कारिया की डिग्री प्राप्त कर चूकी छात्राओं को सनद व शाल भेट कर सम्मान से नवाजा गया।टांडा से तशरीफ लाई आलिमा नफीस फातमा ने हुकूके वालदैन व औलाद पर खिताब करते वालदैन के मर्तबे व वालदैन पर औलाद की जिम्मेदारियो पर रौशनी डाली।आलिमा ने कहा कि वालदैन की जिम्मेदारी है कि अपने बच्चो को जदीद तालीम के साथ दीनी तालीम व अच्छी तरबीयत दे।बच्चे उस मिट्टी की तरह होते है जिन्हें कुम्हार ठपठपा कर सुंदर आकार देता है।

बच्चो को अच्छी शिक्षा व संस्कार से वालदैन के साथ ही समाज को भी दिशा मिलता है।वाराणसी की आलिया रिजवाना व घोषी की नासिरा ने इल्म ही एहतराम इंसानियत, सुन्नते मुस्तफा व मार्डन साइंस, जदीद टेक्नोलॉजी और कुरआनी वसूल, मकसद कुरआन तमाम उलूम का मख्जन आदि विषयों पर खिताब किया।वाराणसी की शायरा साजिया अंसारी व समां नूरी हम्द व नातेपाक का नजराना पेश किया।निजामत प्रिंसपल फरजाना ने किया।स्कूल के संरक्षक हाजी शाहिद हुसैन व अध्यक्ष अब्दुल कादिर अंसारी ने कहां कि स्कूल में जाति धर्म का कोई बंधन नही हिंदू मुस्लिम सभी छात्राएं दाखिला लेकर निशुल्क शिक्षा प्राप्त कर सकती है।अध्यक्ष ने कहा कि स्कूल की प्रतिभावान व मेघावी छात्राओं को प्रोत्साहित करने के लिए 10वीं व 12वीं की शिक्षा निशुल्क ग्रीन व्यू पब्लिक स्कूल में देने के साथ आगे की उच्च शिक्षा में बढ चढ कर सहयोग होगा।मौ.अब्दुस्समद जेयाई ने कांफ्रेंस का उद्देश्य बताते कहां कि समाज में इल्मो अमल की रोशनी फैलाना है।जिसके लिए इदारा निशुल्क इल्म के साथ यूनिफार्म किताब आदि भी मुफ़्त उपलब्ध करा रही है।इरशाद सिद्दीकी सहित एक दर्जन स्कूल कमेटी के लोग कार्यक्रम व्यवस्था में लगे रहे।