यहीं से शुरू हुआ था यह खास सफर, आज सैल्फी की होड़

होली मिलन

भदोही। जिस स्थान से सुर धारा की शुरूआत हुई, उस स्थान पर मिलने वाला सम्मान खास मायने रखता है। पूर्वांचल के बहुचर्चित भोजपुरी गायक राजेश परदेशी पर यह बात लागू होती है।

गोपीगंज में आयोजित होली मिलन में कुछ ऐसा ही देखने को मिला। इस दौरान सबकी बस एक ही फरमाईश ई वाला ले गीत की बार बार डिमांड पर परदेशी ने अपना सुपरहिट होली गीत ऐ भौजी मधुबाला ई वाला ले और रँगवा लगाएगे सुनाकर महफ़िल में चार चांद लगा दिया।

भोजपुरी गायक राजेश परदेशी

इस दौरान परदेशी ने कहा जब हमने पहला कार्यक्रम एक जन्मदिन से गोपीगंज नगर से शुरुआत की थी तो बहुत कम लोग जानते थे, लेकिन आज सभी के आशीर्वाद से आज पूर्वांचल सहित पूरा भोजपुरी समाज जानने लगा है। इसमें गोपीगंज नगर वासियो का बड़ा सहयोग रहा है। इस दौरान सेल्फी लेने के लिए युवक व युवतियों में होड़ सी लगी रही। परदेशी और कोमल ने कई युगल गीत भी सुनाए।

1 thought on “यहीं से शुरू हुआ था यह खास सफर, आज सैल्फी की होड़”

Comments are closed.